मैंने मर्डर फिल्म को रिजेक्ट कर दिया था, लेकिन कभी सोचा नहीं भीगे होंठ तेरे इतना बड़ा चार्टबस्टर बनेगा: भूषण कुमार

वर्ल्ड म्यूजिक डे के मौके पर हमने टी सीरीज के हेड भूषण कुमार से बात की. जहां उन्होंने हमसे बॉलीवुड फिल्मों और म्यूजिक पर ढेर सारी बातें की. फिर चाहे बात किसी विवाद की हो रॉयलिटी की भूषण ने हर सवाल का जवाब दिया.

वर्ल्ड म्यूजिक डे के मौके पर हमने टी सीरीज के हेड भूषण कुमार से बात की. जहां उन्होंने हमसे बॉलीवुड फिल्मों और म्यूजिक पर ढेर सारी बातें की. फिर चाहे बात किसी विवाद की हो रॉयलिटी की भूषण ने हर सवाल का जवाब दिया. वैसे आज के समय में ये कम देखने को मिलता है जब कोई इस तरह खुलकर जवाब दे. लेकिन भूषण कुमार ने बिंदास होकर बात की. कल हमने आपको बताया था कि अपने इस इंटरव्यू में भूषण ने कहा था कि फिल्मों के म्यूजिक को समझने उन्होंने भी कई ऐसी गलतियां की जिसे ठीक नहीं की जा सकती.

भूषण के मुताबिक फरहान अखतर की फिल्म दिल चाहता है के दौरान वो उसके म्यूजिक को लेकर डबल माइंड में थे कि वो इस फिल्म के म्यूजिक को खरीदें या नहीं. लेकिन अंत में उन्होंने उसे ले लिया और फिल्म के गानें खूब पॉपुलर हुए.


लेकिन भूषण हर बार लकी नहीं साबित हुए उनके मुताबिक फिल्म रंग दे बसंती के समय उसका म्यूजिक पहले उन्हें ऑफर हुआ था. लेकिन उन्होंने उसे नहीं लिया. जिसके फिल्म के गानें जबरदस्त हिट हुए. जिसका उन्हें बहुत पछतावा हुआ. उसके बाद से उन्होंने अपनी पसंद से उपर यूथ की पसंद को रखना शुरू कर दिया.

इतना ही नहीं महेश भट्ट की फिल्म मर्डर के दौरान भी वो गलत साबित हुए थे जिसका मलाल आज भी उन्हें है. उन्हें लगा मर्डर मिस्ट्री जैसी फिल्म में कोई गाना कैसे सुन सकता है. लेकिन भीगे होंठ तेरे लंबे समय तक चार्ट बस्टर में शामिल रहा.


इसके अलावा जब हमने उनसे एक फिल्म में 3 से 4 म्यूजिक डायरेक्टर के कांसेप्ट पर जानना चाहा तो उन्होंने कहा कि इसमें बुराई क्या है? पहले के वक्त में भी दो म्यूजिक डायरेक्टर मिलकर काम करते थे. जैसे शंकर जयकिशन, लक्ष्मीकांत प्यारेलाल और कल्याणजी आनंदजी. इसके अलावा आज के वक्त में म्यूजिक डायरेक्टर शो करने में ज्यादा बिजी है. वो एक फिल्म के लिए पीछे अपना पूरा वक्त नहीं देना चाहते क्योंकि उन्हें शो से ज्यादा पैसे मिल रहे हैं. मेरे हिसाब से कोई बुराई नहीं है. इसलिए हम एक फिल्म में 3 से 4 म्यूजिक डायरेक्टर के कांसेप्ट पर काम कर रहे हैं. आशिकी 2 इसका एक बेहतरीन उदाहरण है. 

RELATED NEWS