Jagjit Singh Birth Anniversary: जाने वो कौन सा देस, जहां तुम चले गए

गजलों को हमेशा से उर्दू के जानकारों की मिल्कियत समझी जाती थी लेकिन ये जगजीत सिंह का जादू था जो उन्होंने इसे आम लोगों के बीच तक पहुंचाया.

511 Reads |  

Jagjit Singh Birth Anniversary: जाने वो कौन सा देस, जहां तुम चले गए

मशहूर गजल गायक जगजीत सिंह का आज जन्मदिन हैं. अपनी मखमली आवाज से लोगों को दिल में उतर जानेवाले जगजीत सिंह अब भले ही हमारे बीच ना हो लेकिन उनकी गजल  इस बात का कभी अहसास नहीं होने देती हैं. वैसे जगजीत सिंह सिर्फ गजल गायकी के लिए ही फेमस नहीं है बल्कि भजन, गीत और शास्त्रीय संगीत में भी वो उनका कोई सानी नहीं हैं. जगजीत सिंह के जन्मदिन के मौके पर जानते है उनसे जुड़ी 10 अहम बातें. 


1: जगजीत सिंह का जन्म 8 फरवरी 1941 के दिन राजस्थान के श्रीगंगानगर में हुआ था.


2: जगजीत सिंह के पिता सरदार अमर सिंह धमानी भारत सरकार के कर्मचारी थे. जबकि इनकी मां का नाम बच्चन कौर था. यह भी पढ़े: पुण्यतिथि विशेष: जगजीत सिंह की वो 7 गजलें जिससे वो हमेशा लोगों के दिलों में जिंदा रहेंगे


 

3: जगजीत ने अपनी पढ़ाई गंगानगर के खालसा स्कूल जबकि जालंधर के डीएवी कॉलेज से स्नातक की डिग्री ली.


4: अपनी मधुर आवाज के कारण लोगों के दिल छू लेनेवाले जगजीवन का नाम जगजीत हो गया.


5: गायकी में महारथ हासिल करने के लिए जगजीत सिंह ने पंडित छगनलाल शर्मा और उस्ताद जमाल खान से शिक्षा ली थी.


 

6: करियर की शुरुआत जगजीत सिंह ऑल इंडिया रेडियो के जालंधर स्टेशन पर गाते थे.


7: परिवार को बिना बताए मुंबई में करियर आजमाने आए जगजीत सिंह की मुलाकात चित्रा दत्ता से हुई और फिर दोनों ने 1969 में शादी कर ली. जिसके बाद से दुनिया उन्हें चित्रा सिंह के नाम से जानती हैं.


8: जगजीत सिंह की तरह उनकी पत्नी चित्रा भी काफी मशहूर गायिका थी. शादी के बाद तो दोनों जिस भी महफ़िल में जाते लोग उनकी गायकी के दीवाने हो जाते थे. अमेरिका और कनाडा में तो इनके फैन्स की भरमार थी.



9: साल 1990 में जब जगजीत और चित्रा सिंह के 18 वर्षीय बेटे विवेक की सड़क हादसे में मौत हो गई तो दोनों बुरी तरह से टूट गए. चित्रा सिंह ने गाना ही छोड़ दिया. जगजीत भी सदमे में चले गए.


10: हालंकि इस सदमे से उबर कर जगजीत सिंह ने गायकी में दोबारा कदम रखा. लेकिन उनकी गायकी में उन्हें सुननेवालों को फर्क दिखाई देता था. बावजूद इसके उनकी लोकप्रियता में कोई कमी नहीं आई. साल 2003 में भारत सरकार की तरफ से जगजीत सिंह को 'पद्म भूषण' सम्मान से नवाजा गया.



23 सितम्बर 2011 को जगजीत सिंह को ब्रेन हैमरेज हुआ जिसके बाद उन्हें मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया. लेकिन 10 अक्टूबर 2011 को गजल गायकी के बेताज बादशाह हमें छोड़कर चले गए.

 Image Source:- Twitter/@gehlotji1234,Youtube/shemaroofilmigaane,sheshantsaurabh,gaanesuneansune,bollywoodclassics

They say the best things in life are free! India’s favourite music channels 9XM, 9X Jalwa, 9X Jhakaas, 9X Tashan, 9XO are available Free-To-Air.  Make a request for these channels from your Cable, DTH or HITS operator.
Advertisement
  • Trending
  • Photos
  • Quickies