CDR मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने रिजवान सिद्दीकी को रिहा करने का आदेश दिया

ठाणे पुलिस ने रिजवान को एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी आलिया सिद्दीकी के कॉल डिटेल्स रिकॉर्ड्स को गैरकानूनी तरीके से हासिल करने के मामले में अरेस्ट किया था.

46 Reads |  

CDR मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने रिजवान सिद्दीकी को रिहा करने का आदेश दिया

सीडीआर मामले में 16 मार्च को गिरफ्तार हुए एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी के वकील रिजवान सिद्दीकी को बॉम्बे हाई कोर्ट ने रिहा करने का आदेश दे दिया है. ठाणे पुलिस ने रिजवान को नवाजुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी आलिया सिद्दीकी के कॉल डिटेल्स रिकॉर्ड्स को गैरकानूनी तरीके से हासिल करने के मामले में अरेस्ट किया था.

रिहा होने के बाद सिद्दीकी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, "मुझे न्यायपालिका में पूरा विश्वास था. आप न्यायालय के आदेश में पढ़ सकते हैं कि ठाणे पुलिस ने उचित कार्रवाई की है या नहीं. मुझे कानून का सामना करना पड़ा. मैंने जमानत के लिए आवेदन नहीं किया और न ही भागा और मैं खुद के लिए खड़ा रहा. मैं अपने किसी भी क्लाइंट के बारे में कोई बात नहीं करना चाहता हूं.”

nawazudin aaliya siddiqui


सिद्दीकी के वकील रिजवान मर्चंट ने मीडिया से बातचीत में कहा कि “इस मामले कानूनी प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया. कानून का पूरी तरह से उल्लंघन हुआ है. अदालत ने ठाणे पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी को निर्देश दिया है कि वो कानून को हाथ में लेनेवालों के खिलाफ पूछताछ करें.  

इस मामले में ठाणे पुलिस बॉलीवुड स्टार जैकी श्रॉफ की पत्नी आयशा श्रॉफ को सम्मन भेज चुकी है. पुलिस को शक है कि आयशा श्रॉफ ने एक्टर साहिल खान की सीडीआर (CDR) गैर कानूनी तरीके से निकलवाई. दरअसल रिजवान सिद्दीकी के मोबाइल से कुछ डिटेल मिली थी जिसके अनुसार आयशा श्रॉफ और एक्टर साहिल खान के बीच आपसी विवाद था. इसी विवाद के चलते अवैध तरीके से सीडीआर निकलवाए गए थे.

ये पूरा मामला तब सामने आया जब ठाणे पुलिस ने अवैध रूप से मोबाईल कम्पनियों से कॉल डिटेल्स निकालने वाले गिरोह के 11 लोगों को गिरफ्तार किया. इन्हीं गिरफ्तार लोगों से पूछताछ के बाद पता चला कि एक आदमी ने फिल्म अभिनेता नवाजुद्दीन की पत्नी के फोन डिटेल्स निकलवाए थे. 


फोटो साभार: इंस्टाग्राम / आयशा श्रॉफ 

Advertisement
Advertisement
  • Trending
  • Photos
  • Quickies