नेशनल अवॉर्ड विवाद: 65 विजेताओं ने सेरेमनी को किया बायकॉट

समारोह के एक दिन पहले रिहर्सल के दौरान दिल्ली के विज्ञान भवन में इकट्ठा भी हुए थे सभी विजेताओं को बताया गया कि इस बार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सिर्फ 11 विजेताओं को ही पुरस्कार देंगे. जैसे ही ये बात विनर्स को पता चली तो वो निराश हो गए.

36 Reads |  

नेशनल अवॉर्ड विवाद: 65 विजेताओं ने सेरेमनी को किया बायकॉट

दिल्ली में हुआ 65वां नेशनल फिल्‍म अवॉर्ड्स इस बार विवादों में रहा. क्योंकि इस समारोह का 65 विजेताओं ने बायकॉट कर दिया. दरअसल समारोह के एक दिन पहले रिहर्सल के दौरान दिल्ली के विज्ञान भवन में इकट्ठा भी हुए थे सभी विजेताओं को बताया गया कि इस बार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सिर्फ 11 विजेताओं को ही पुरस्कार देंगे. इसके पीछे की वजह वक्त की कमी है. दरअसल राष्ट्रपति केवल 1 घंटे के लिए इस समारोह में मौजूद रहेंगे. जबकि बाकि के अवॉर्ड्स केन्द्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानीराज्यवर्धन सिंह राठौड़सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव नरेन्द्र कुमार सिन्हा प्रदान करेंगे.

जैसे ही ये बात विनर्स को पता चली तो वो निराश हो गए. क्योंकि 1954 से यह प्रथा चली आ रही है कि राष्ट्रीय पुरस्कार विजेताओं को राष्ट्रपति ही सम्मानित करते हैं. लेकिन अचानक से हुए इस बदलाव से विनर्स बेहद नाराज थे.

मिड डे से बात करते हुए कौशिक गांगुली ने कहा कि "यह कलाकारों के लिए अपमानजनक है कि राष्ट्रपति के पास 11 से अधिक पुरस्कार देने का समय नहीं है. यह पुरस्कार अब पहले जैसा नहीं रहा.

बायकॉट करने वाले विजेताओं के मुताबिक हमारी शिकायत उचित थी. लेकिन हमारे लेटर का जवाब नहीं दिया गया और सेरेमनी शुरू कर दी गई. आपको बता दे कि इस बार 140 लोगों ने इस अवॉर्ड को जीता था. लेकिन इस विवाद के बाद 65 लोगों ने सेरेमनी में हिस्सा नहीं लिया. 

Advertisement
Advertisement
  • Trending
  • Photos
  • Quickies