आलोक नाथ पर रेप का इल्जाम लगानेवाली विनता नंदा से उस सुबह सबसे पहले इस महिला ने की थी मुलाकात

1990 के दशक के मशहूर शो 'तारा' की लेखिका व निर्माता विनता नंदा ने अभिनेता आलोक नाथ पर करीब दो दशक पहले उनके साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है.

144 Reads |  

आलोक नाथ पर रेप का इल्जाम लगानेवाली विनता नंदा से उस सुबह सबसे पहले इस महिला ने की थी मुलाकात

सीनियर टीवी राइटर विनता नंदा ने जैसे ही संस्कारी बाबूजी के नाम से मशहूर एक्टर आलोक नाथ पर रेप का आरोप लगाया. हर कोई हैरान रह गया. विनता ने बताया कि 90 के दशक में शो तारा के दौरान आलोक नाथ ने उनका रेप किया था. विनता ने अपने साथ हुई रेप की घटना को फेसबुक के जरिए दुनिया के सामने लाया. जिसके उन्हें हर तरफ से सपोर्ट मिल रहा है. दरअसल विनता ने अपने इस पोस्ट में बताया कि उनकी पत्नी मेरी अच्छी दोस्त थी. लेकिन जब मैं पार्टी के लिए उनके घर गई थी तो मेरी दोस्त शहर से बाहर थी. वहां से देर रात दो बजे के करीब घर जाने के लिए निकलीं. उनके ड्रिंक में कुछ मिला दिया गया था.

नंदा ने आगे कहा, "मैं घर जाने के लिए खाली सड़क पर पैदल ही चलने लगी. रास्ते में उस शख्स ने गाड़ी रोकीजो खुद चला रहा था और कहा कि मैं उनकी गाड़ी में बैठ जाऊंमुझे घर छोड़ देगा. मैं उस पर विश्वास करके गाड़ी में बैठ गईइसके बाद मुझे बेहोशी सी छाने के चलते हल्का-हल्का याद है. मुझे याद है कि मेरे मुंह में और ज्यादा शराब डाली गई और मेरे साथ काफी हिंसा की गई. अगले दिन जब दोपहर को मैं उठीतो मैं काफी दर्द में थी. मेरे साथ सिर्फ दुष्कर्म ही नहीं किया गया था बल्कि मुझे मेरे घर ले जाकर मेरे साथ नृशंस व्यवहार किया गया था."

alok vinta

ऐसे में अगले दिन जब विनता की हालत काफी बुरी थी तो इनसे मिलने मशहूर हेल्थ ऑथर रुजुता दिवेकर जो विनता की अच्छी दोस्त थी वो पहुंची. घटना को याद करते हुए रुजुता बताती है कि अगले दिन सुबह जब मैं विनता के घर पहुंची तो उनकी हालत देखकर मैं हैरान हो गई. वो अपने बिस्तर से उठ भी नहीं पा रही थी. विनता ने मुझे कहा “मैं अभी अच्छे हाल में नहीं हूं तुम अभी अपने घर जाओ”

rujuta diwekar

लेकिन अब जब विनता ने अपने साथ हुई उस घटना का जिक्र किया तो रुजुता ने उन्हें फोन करके उस दिन को याद किया. आपको बता दे कि अब तक आलोक नाथ के खिलाफ एक बाद एक कई औरतें उन पर आरोप लगा चुकी हैं.

Advertisement
  • Trending
  • Photos
  • Quickies