क्या काम की खातिर डॉक्टर हाथी ने अपनी जान मुश्किल में डाल दी? डॉक्टर ने दी अहम जानकारी

8 साल पहले तारक मेहता का उलटा चश्मा के सेट पर शूट करते हुए डॉक्टर हाथी गिर पड़े थे. जिसके बाद डॉक्टर मुफ्ती लकडावाला ने बेरिएट्रिक सर्जरी करके उन्हें बचा लिया था. लेकिन...

406 Reads |  

क्या काम की खातिर डॉक्टर हाथी ने अपनी जान मुश्किल में डाल दी? डॉक्टर ने दी अहम जानकारी
8 साल पहले तारक मेहता का उलटा चश्मा के सेट पर शूट करते हुए डॉक्टर हाथी गिर पड़े थे उस वक्त उनका वजन 265 किलों था. जिसके बाद डॉक्टर मुफ्ती लकडावाला ने बेरिएट्रिक सर्जरी करके उन्हें बचा लिया था. लेकिन अब आपको जानकार और हैरानगी होगी कि कवी कुमार ने इस सर्जरी के बाद डॉक्टर की सलाह को गंभीरता से नहीं लिया. 

डॉक्टर, मुझे माफ करना मैं आपको परेशान कर रहा हूं...
नहीं ऐसी कोई बात नहीं. इस समय में मैं इटली में हूं, आप अपने सवाल पूछे.

आपको कवी कुमार के बारे में तो पता चला ही होगा. वो अब हमारे बीच नहीं रहे.
हां, मैंने सुना, ये काफी दुखद खबर है.

आपने उनका ऑपरेशन किया था कुछ समय पहले...
हां, 8 साल पहले. वो काफी अच्छे इंसान थे.

तो वो आपके पास किस शिकायत को लेकर पहुंचे थे?
वो काफी मोटे थे. असल में जब वो मेरे पास आए तो लगभग मर चुके थे. वो सेट पर गिर गए थे. लेकिन गिरने से पहले उन्होंने अपने आस पास के लोगों से कहा कि मुझे डॉक्टर मुफ्ती के पास लेकर चले. वो मेरे पास पहले भी आए थे. मैंने उन्हें बेरिएट्रिक सर्जरी की सलाह दी थी. लेकिन वो वो कभी नहीं आए.

उस समय उनका वजन कितना था?
265 किलो.

dr haathi image

क्या!
हां, 265 किलों. इस वजन के साथ रह पाना मुश्किल है. मैंने उन्हें 10 दिनों तक वैंटिलेटर पर रखा. मैं उन्हें वैंटिलेटर से हटा नहीं सकता था क्योंकि वो काफी मोटे थे और ठीक से सांस नहीं ले पा रहे थे. उसके कुछ दिन बाद वो ठीक हो गए और उन्होंने अपना वजन 140 किलों तक घटा लिया था. जिसके बाद वो दोबारा सेट पर लौटे और आम लाइफ जीने लगे.

बोलते रहिए...
मैंने उन्हें दूसरी सर्जरी के लिए सलाह दी थी. जिसके बाद उनका वजन 90 किलो तक हो जाता. जिसके बाद उन्हें सिर्फ अपना वजन मेनटेन करना पड़ता. मैंने ये बात उनके भाई और पिता को भी बताया था. लेकिन कुछ फायदा नहीं हुआ. कवी इसके लिए तैयार नहीं हुए.

वो दूसरी सर्जरी से क्यों भाग रहे थे?
उन्होंने मुझसे कहा था कि उन्हें मोटा रहना पड़ेगा.ताकि मैं स्क्रीन पर मोटा दिखता रहा हूं. उन्होंने मुझसे कहा था कि अगर मैं पतला हो गया तो काम नहीं मिलेगा.

ओह्ह! क्यों?
पता नहीं. मुझे तो यही कहा था.
 
उसके बाद?
मैंने फिर भी उन्हें जोर देकर दूसरी सर्जरी के लिए कहा था. कैमरे के लिए आप पैडिंग कर लेना. नहीं तो आप अपनी लाइफ को रिस्क में डाल रहे हैं.

अच्छी सलाह...
लेकिन उन्होंने सुनी नहीं. मैं बीच में उनसे मिला तब उनका वजन दोबारा बढ़ गया था. मैंने उन्हें समझाया था. लेकिन उसके बाद हमारा कांटेक्ट टूट गया.

क्या उन्हें डर था कि उनका शो तारक मेहता उनके हाथ से जा सकता है? या फिर दूसरे कामों की बात कर रहे थे?
वो मुझे नहीं पता. उन्होंने मुझसे कहा था कि उन्हें काम नहीं मिलेगा. उन्होंने कहा था मैं सुंदर इंसान नहीं हूं जो रोल मिले. मुझे मोटा रहना पड़ेगा ताकि मेरी जीविका चलती रही. मैंने कई बार फोन किया था. वो मुझसे कहते थे 'आऊंगा आऊंगा' जिसके बाद हमारा कांटेक्ट नहीं रहा.

भयानक...
हां.

dr hansraj hathi

या हो सकता है उन्हें खाना बेहद पसंद हो.
हो सकता है. लेकिन ये उनकी आनुवंशिक समस्या तो नहीं थी. एक डॉक्टर होने के नाते मुझे काफी बुरा लगा. हमारा मरीजों के साथ एक रिश्ता बन जाता है. खासकर जिस तरह हमने उनकी लाइफ बचाई थी. 

आपको लगता है कि अगर वो दूसरी सर्जरी करा लेते तो आज हमारे बीच होते?
वो मैं नहीं कह सकता. लेकिन एक डॉक्टर के नाते ये भरोसा करते हैं कि 'हां वो बच सकते थे.'

Advertisement
Advertisement
  • Trending
  • Photos
  • Quickies