एक्सक्लूसिव: उदानी मर्डर केस पर बोली देवोलीना भट्टाचार्जी, रखा अपना पक्ष

हीरा कारोबारी के मर्डर केस में साथ निभाना साथिया की एक्ट्रेस देवोलीना भट्टाचार्जी को कल पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था. जिसके बाद अब देखिए देवोलीना भट्टाचार्जी का पहला इंटरव्यू

1947 Reads |  

एक्सक्लूसिव: उदानी मर्डर केस पर बोली देवोलीना भट्टाचार्जी, रखा अपना पक्ष

आप अभी कहां हैं?

मैं अपने घर पर सुरक्षित और ठीक हूं. मैं जल्द ही प्रेस कांफ्रेंस लेने वाली हूं.


क्या आप उससे पहले बात कर सकती हैं, अभी?

मीडिया में लिखी बातों के कारण मैं बुरी तरह आहत हुई हैं. में मां और दोस्त घबराए हुए हैं. समझ नहीं आता कि पत्रकार जब तक पुलिस आधिकारिक स्टेटमेंट जारी नहीं करते तक तक वेट क्यों नहीं करते?


हमने सीनियर पुलिस पीआई रोहिणी काले से बात की उन्होंने बताया कि आप को डिटेन्ड नहीं किया गया था.

बिलकुल, लेकिन मीडिया ये बात नहीं समझती कि डिटेन्ड और पूछताछ में फर्क है. मैं उन सभी मीडिया के खिलाफ एक्शन लूंगी जिन्होंने गलत तरीके से खबर रिपोर्ट की हैं. मैं उदानी से महज 3 बार ही मिली हूं. मेरा नंबर सिर्फ सचिन पवार की कॉल लिस्ट में मिला है इसलिए मुझे पूछताछ के लिए बुलाया गया था. सचिन को भी इसलिए बुलाया गया है क्योंकि उसका नंबर उदानी की कॉल लिस्ट में एक बार मिला है.


इसका मतलब आपका नंबर उदानी की कॉल लिस्ट में नहीं मिला है?

नहीं, मुझे लगता पुलिस ने वहीं किया जो सही था. वो तो हर मुमकिन कोशिश तलाश रहे हैं जानकारी लेने की. ये कोई डिटेनशन नहीं था सिर्फ एक जनरल पूछताछ थी.


लेकिन सचिन पवार आपका दोस्त हैं?

हां, आपको बता दूं कि आशीष शर्मा जो साथ निभाना साथिया में मेरे को-स्टार हैं उन्हें भी पूछताछ के लिए बुलाया गया था. वो सचिन पवार के पार्टनर रहे हैं रोड फिल्म्स में.


खबर है कि आप सचिन पवार के साथ लिविंग में थी?

क्या! ये सच नहीं है. मैं अपनी मां के साथ रहती हूं. क्या आप मजाक कर रहे हैं?


क्या आप उन्हें कभी डेट कर चुकी हो?

नहीं, हम कई प्रोजेक्ट्स को लेकर बात करते थे.


क्या आप कोलकत्ता में थी जब पुलिस ने आपको समन भेजा?

मैं गुवाहाटी में थी कुछ दिन पहले. लेकिन जब मैं मुंबई आई तभी मुझे पुलिस का फोन आया.


ऐसा लिखा गया था कि जिस दिन उदानी गायब हुआ उस दिन से आपने मुंबई छोड़ दिया.

मुझे ऐसा महसूस हो रहा है कि उन लोगों के एक थप्पड़ मारू. ये कोई मजाक नहीं है. लोगों के दिमाग से ऐसी बातें मिटाने में लंबा समय चला जाता है.


घर लौटने के बाद आप ठीक हैं?

पिछली रात मैं अच्छे से सो पाई. लेकिन हां थोड़ा समय तो जरूर लगेगा.


क्या आप अकेले पुलिस स्टेशन गई?

हां, मैंने किसी को नहीं बोला. अब मैं अपना फोन बंद कर रही हूं. आप समझ नहीं सकते मुझे कितने कॉल आ रहे हैं आज.

 

Advertisement
  • Trending
  • Photos
  • Quickies