Exclusive: तलाक के बाद पहली बार खुलकर बोली जूही परमार, देखिए दिल को छू लेना वाला इंटरव्यू

सचिन श्रॉफ से तलाक के बाद पहली बार एक्ट्रेस जूही परमार ने कैमरे के सामने अपनी चुप्पी तोड़ी. स्पॉटबॉय से Exclusive बात करते हुए जूही ने बताया सिंगल पैरेंट के तौर पर कैसी बीत रही हैं उनकी जिंदगी.

तलाक के बाद जिंदगी कितनी बदल चुकी है? मैं ये समझ सकता हूं पिछले कुछ दिन और महीने काफी मुश्किल भरे रहे होंगे... 

अकेले माता पिता के रोल में होने से काफी मुश्किल होता है, लेकिन इससे आपको अपने बच्चे का दोगुना प्यार मिलता है और  मैं तो पिछले 2 सालों से सिंगल पैरेंट हूं. हर दिन चुनौतीपूर्ण रहता हैलेकिन मेरी बहनमाता-पिता और दोस्त आश्का गोरियाडिया के रहने से ये सब आसान हो गया. ये सब मेरे मुश्किल वक्त में ताकत के खंभे रहे हैं

 

लेकिन आपके माता-पिता जयपुर में हैं ...

वे जयपुर में थे. मेरे पिताजी रेमंड्स में काम करते थे जिसके बाद उनका प्रमोशन हुआ और मुंबई आ गए. 2016 में वो रिटायर्ड हो गए. लेकिन उसके बाद वो और मां वापस नहीं लौटे. उन्होंने मेरे लिए और समैरा के लिए अपना जीवन बदल दिया. उन्होंने कहा, 'जूहीआप काम पर जाओ और हम आपके बच्चे की देखभाल करेंगे'. जिसके बाद मैं शनि की शूटिंग कर पा रही हूं.

 

क्या कोई ऐसा दिन था जब आपको लगा कि आपके  काम पर वापस जाने का फैसला गलत हो गया?

जैसा कि मैंने कहा कि अब मैं सिंगल पैरेंट होने की आदि हो गई हूं.

 Juhi Parmar

आपने कहा कि आप 2 साल से  सिंगल पैरेंट थे. मुझे पता है कि सचिन आपको और  समायरा  को छोड़कर 3-4 महीने के लिए गायब हो जाता था ...

खैर, मुझे लगता है आपको सबकुछ पता है.

 

क्या  समायरा  ने तब पूछा नहीं कि डैड कहां हैं?

ये स्पष्ट सवाल हैं, कोई भी बच्चा ऐसी परिस्थितियों में पूछेगालेकिन वो अधिकतर समय ये पूछती थी कि 'मम्मी कब आएगी शूट से?मुझे लगता है कि बच्चा अपनी मां से अधिक जुड़ा हुआ रहता है.

क्या आप कभी तलाक की कार्यवाही के किसी भी स्टेज में चिंतित थे कि आप  समायरा   की हिरासत खो सकते हैं?

कभी नहीं. पहले दिन सेहमने फैसला किया था कि समायरा मेरे साथ रहेगी. 


मुझे आश्चर्य है कि सचिन अपने बच्चे से इतना जुदा रहता है ...

वेल, मैं क्या कह सकती हूं? मैं किसी और की ओर से बात नहीं कर सकती. मैं चाहती हूं सुबह सबसे पहले मैं समायरा को देखूं और रात को उसे अपने गले लगाकर अपने पास सो जाऊं.


आपकी मां और पापा ने आपके तलाक के फैसले को कैसे लिया?

वे कभी मुझे किसी परेशानी में नहीं देखना चाहते थे. वे केवल चाहते हैं कि हमेशा खुश रहूं. 


क्या वो दोनों आपके और सचिन के बीच लंबे समय से चल रही परेशानियों के बारे में जानते थे?

मैंने उन्हें बताने का फैसला नहीं किया. उन्हें लगता था छोटी-मोटी समस्याएं होगी. लेकिन उन्हें कभी नहीं लगा की समस्या इतनी ज्यादा गंभीर होगी. बेशक कोई भी खुश नहीं होता है जब कोई ऐसा बड़ा निर्णय लेता हैलेकिन साथ ही मुझे यह तय करना पड़ा कि मेरे बच्चे के लिए क्या सही है.

 

अब आप किस तरह का काम करना चाहती? क्या आप वेब शो के लिए तैयार है?

मैं एक कलाकार हूं प्लेटफॉर्म से कोई फर्क नहीं पड़ता, बस अच्छे रोल हो.

आज आप टीवी कैसे देखते हैं?

वेल, आज के समय में काफी काम है. लेकिन अब आपको आइकोनिक रोल नहीं मिल सकते. क्योंकि अब भी कई शो पिछड़े हुए हैं.


कुछ सीनियर कलाकारों ने मुझे बताया है कि टीवी शो निर्माता अब उन्हें वो भुगतान करने के लिए तैयार नहीं हैं जिसके वो हकदार हैं...

ऐसे में वो अगर ज्यादा काम नहीं करते तो मैंने उन्हें ब्लेम नहीं करती. जब आप एक मुकाम पर पहुंच जाते हैं तब आप हर तरफ एक सम्मान चाहते हो. मैं शुक्रगुजार हूं की मैं उस समय से आती हूं जिसे आज भी लोग कुमकुम की कुकू के नाम से जानते हैं. 

RELATED NEWS