अपनी ज़िन्दगी की तीनो औरतें... पत्नी, प्रत्युषा बनर्जी और सलोनी शर्मा पर बोले राहुल राज सिंह

अपनी ज़िन्दगी के इन पहलुओं के बारे में पहली बार बोले राहुल राज सिंह... पढ़िए राहुल राज सिंह के साथ हाल ही में हुई हमारी बातचीत

मुझे लगता है अब आपको बता देना चाहिए कि आपके और सलोनी शर्मा के बीच क्या चल रहा है.


हम्म...


हां, तो बोलिए...


हमने हाल ही में एक होली शो के लिए साथ काम किया. आप और क्या जानना चाहते हैं?

आपका और सलोनी का पैच-अप कैसे हुआ?


मैंने बस फ़ोन उठाया और बात की. मैंने उसे कहा कि हमें बैठकर चीज़ों को सुलझाना चाहिए.


क्यों?


दूसरों ने जो गलतफहमी हम दोनों बीच पैदा उसकी वजह से कब तक और क्यों हम गलत स्तिथि में रहे.


बोलते रहिये...


जी... एक समय पर हम बहुत करीब थे.

जब आपकी ज़िन्दगी में प्रत्युषा की एंट्री नहीं हुई थी?


जी बिलकुल.


प्रत्युषा के मौत के बाद, सलोनी ने कहा था कि वो आपकी ज़िन्दगी में उनके पहले आई थी. तो ये सच है?


जी ये सच है.


फिर?


मैं उसे प्यार करता था और वो मुझे करती थी. मैं उस वक़्त ये तय नहीं कर पा रहा था कि ये प्यार है या दोस्ती है. उसी दौरान मैं सारा खान के पार्टी में प्रत्युषा से मिला. उसके तुरंत बाद मैं उसे किश्वर मर्चेंट की पार्टी में मिला. उसके बाद मुझे पता चला कि प्रत्युषा ने मीडिया में स्टेटमेंट दिया है कि ‘राहुल राज सिंह मेरे जीवन का पार्टनर है’. मुझे झटका लगा.


सलोनी नाराज़ हो गयी और हमारे बीच सब खराब हो गया. हमारा रिश्ता या दोस्ती जो भी था, सब खराब हो गया.



तुमने उसे समझाने की कोशिश क्यों नहीं की.


बिलकुल मैंने की. पर आप जानते हैं जब कोई एक गुस्से में हो तो क्या होता है. वो शख्स आपकी सुनने को तैयार ही नहीं रहता. हम फ़ोन पे लड़ते थे, हम मॉल में लड़ते थे. उस दौरान जब मैं निराश था तब मैंने प्रत्युषा के कंधे का सहारा लिया और उसने मेरा. उसके माता-पिता की वजह से उसकी सारी सेविंग ख़त्म हो गयी थी. वो मुझे बहुत प्यार करती थी मेरी बहुत इज्ज़त करती थी. धीरे-धीरे हमें प्यार हो गया. हम 10 महीने तक साथ में थे जब वो बुरी घटना घटी. (1 अप्रैल को पंखे से लटकर प्रत्युषा ने अपनी जान देदी)


उसके गुजरने के एक महीने पहले हम साथ रहने लगे थे.

आप निराश क्यों थे?


सलोनी के साथ मेरा इक्वेशन खराब हो गया था. और दूसरी बात हम दोनों एक साथ नहीं थे तो इसका असर हमारे बिजनेस पर भी हो रहा था. हमारी एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी थी जिसे हमने होली इवेंट के साथ फिर से शुरू किया.


बात करें सलोनी से फ़ोन पर आपकी बातचीत की तो क्या उसने वो सब मान लिया आपने जो भी आपने कहा?


बिलकुल ये आसन नहीं था. सलोनी बहुत क्रोधी लड़की है.

rahul raj wife

राहुल राज सिंह अपनी पत्नी सौगाता मुख़र्जी के साथ 

ये क्या मुमकिन है कि आपको और सलोनी को फिर से प्यार हुआ?


ये प्यार व्यार एक बड़ा बंधन है जिसमें बहुत कसमें होती है. खैर, सच कहूं तो मुझे नहीं पता मेरा भविष्य.


आपकी शादी पहले भी हो चुकी है किसी सौगाता मुख़र्जी से...


हां, लेकिन वो कतार चली गयी और वहीं रहने लगी. मैं चाहता था कि वो वापस आए लेकिन वो नहीं आई. क्या मतलब बनता है ऐसी लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप का. तो हमने शादी तोड़ दी.

RELATED NEWS